Genus epidemicus

​Variolinum 200 is the single medicine generally we use for prophylaxis in cases of Pox for very long time.

The one idea I use in such cases when a case of Active Pox comes to me is based on the idea of Genus Epidemicus .I use to take the symptoms of the case like fever symptoms ,types of rashes ,burning ,itching ,thirst etc drowsiness  or restlessness n then prescribe accordingly n I find it helpful for prophylaxis too.I hv not kept the track record but I think I should ,as I found that none of the cases reported back with disease symptoms but I hv instances where family members come back wid disease symptoms where I just cut down my labour by just routine prescription of Variolinum 200 .

Try it ,if it appeals you ..just a suggestion for sake of Homoeopathy.

Continue Reading

थे

From a friend’s wall with thanks
साथियो आज मै होम्योपैथिक दवा कितनी तीव्र गति से व चमत्कारिक ढंग से कार्य करताीहै उसके बारेमे एक केशपर अपना अनुभव आप लोगो सेसाझा करना चाहूंगा।पेशा से अध्यापक उम्र ४० वर्ष विगत १७ वर्षो से मलेरिया बुखार से पीडित जांच करानेपर मलेरियाpositive।घर मे मेडिकल स्टोर व डाक्टर उनकी सलाह पर anti malarial treatmentआराम पुनः कुछ महीनो बाद बुखार साल मे कम से कम दो बार यही क्रम पिछले १७ वर्षो से चल रहा था।मैने चाइना ३०दिया कोईलाभ नही बुखार उस समय हर तीसरे दिन आता था। दुसरी बार जब मरीज आया तब बुखार उतर चुका था।पूरी केस टेकिगं के बाद तीन खुराक chin.sulph 15-15 मिनट के अन्तरपर दिया गया दुसरी खुराक खाने के बाद उसी दिन दुसरी बार बुखार चढा जो१०५ तक बढा किन्तु घंटो स्पंजिग व फेरम फास के बाद धीरे धीरे उतरा फिर बुखार नही आया हैं ओठ के किनारे fever blister आ गया Nat.mur.200 दिया गया ।मरीज को खुजली होती थी वह ठीक हो गई साथ ही पैर का corn भी ठीक हो गया।

Continue Reading